Sunday, 6 March 2016

आतंकवाद के सबसे बड़े दुश्मन मोदी की सुरक्षा भी है सबसे ताकतवर


अगर देखा जाय तो आतंकवाद पर अगर दुनिया में सबसे अधिक कोई बोलता है तो वे भारत के प्रधानमंत्री मोदी ही हैं। मोदी हमेशा विश्व को एकसाथ मिलकर आतंकवाद का सफाया करने की बात करते रहते हैं। इसीलिए मोदी आतंकवादियों की हिट लिस्ट में सबसे आगे रहते हैं। इसका असर उनकी सुरक्षा पर साफ़ साफ़ दिखता है। प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा भारत के जांबाज कमांडो तो करते ही है, दुनिया के और भी कई देश उनकी सुरक्षा के प्रति फिक्रबंद रहते हैं। मोदी की सुरक्षा में अमेरिका, ब्रिटेन और इजराइल की एजेंसियों भी लगी रहती हैं। मोदी की ताकतवर सुरक्षा का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनकी सुरक्षा में दुनियाभर के करीब 1000 कमांडों तैनात रहते हैं। सबसे जांबाज माने जाने वाले इजराइल के मोसाद कमांडो भी उनकी सुरक्षा में तैनात रहते हैं।
इजराइल की खुफिया अजेंसी मोसाद को दुनिया की सबसे ताकतवर खुफिया एजेंसी माना जाता है। यह अजेंची चप्पे चप्पे पर अपनी नजर रखती है। इसी एजेंसी की सूचना पर इजराइल आतंकियों के ठिकाने पर इजराइल में बैठे बैठे ही ड्रोन के द्वारा हमला करके उन्हें ख़त्म कर देता है।
मोसाद के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी आतंकवादियों के हिट लिस्ट में सबसे आगे रहते हैं। इसलिए मोसाद ने बिना भारत के आग्रह पर मोदी को सुरक्षा में अपने कमांडो तैनात किये हैं।

G20 सम्मलेन में अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा की तरह ही मोदी के लिए भी आपातकालीन परिस्थितियों में बाहर निकालने के प्लान बनाये गए थे। आतंकवादियों की हरकतों को देखते हुए मोदी को आपातकालीन स्थितियों से निकालने के लिए इजराइल ने अपना एक ख़ास विमान तैनात किया था। यह विमान अत्याधुनिक हथियारों एवं राडार प्रणाली से सुसज्जित था। इस विमान की खासियत यह थी कि इसे कोई भी राडार नहीं पकड़ था।
मोदी की सुरक्षा का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि अमेरिकी एजेंसियों ने प्रधानमंत्री मोदी का विमान एयर इंडिया वन, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के विशेष विमान एयर फ़ोर्स वन के बगल में खड़ा करवाया ताकि दोनों नेताओं को एकसाथ सुरक्षा प्रदान की जा सके। इतिहास में आज तक अमेरिकी राष्ट्रपति के विमान एयर फ़ोर्स वन के बगल में कोई भी विमान नहीं खड़ा किया गया था।
कुल मिलकर यह कहा जा सकता है कि मोदी की सुरक्षा इतनी चाक चौबंद होती है कि उनके ऊपर परिंदा भी पर नहीं मार सकता। यही नहीं उनकी सुरक्षा देखकर यह भी कहा जा सकता है कि मोदी ग्लोबल लीडरों में से किसी से कम नहीं हैं और वे जबतक रहेंगे, आतंकवादियों की नाक में दम करते रहेंगे इसलिए वे आतंकवादियों की हिट लिस्ट में भी सबसे आगे रहेंगे।


No comments:

Post a Comment