Thursday, 14 April 2016

 तस्वीरें जो साबित करती हैं कि सबसे आगे होंगे हिन्दुस्तानी



ये बात भी सच है कि गुज़री हुई सदी में दुनिया के सभी देशों ने बहुत कुछ खोया है तो, बहुत कुछ पाया भी है. ये 50 तस्वीरें साबित करती हैं कि भारत के लोग किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं. राजनीति हो, खेल हो, अर्थशास्त्र, मंनोरंजन या फिर विज्ञान. भारत के लोगों ने दुनिया के सामने साबित कर दिया कि सबसे आगे होंगे हिनदुस्तानी.

1. रवीन्द्र नाथ टैगोर को भारत का पहला नोबेल पुरस्कार उनकी काव्य रचना गीतांजली के लिए 1913 में मिला.

2. 3 मई 1913 को दादा साहेब फ़ाल्के ने भारत की पहली फ़िल्म राजा हरिश्चन्द्र बनाई.


3. दूसरा नोबेल पुरस्कार सी. वी. रमन को भौतिकी में 10 दिसम्बर, 1930 को मिला.

4. 1939 में महात्मा गांधी का पुतला मैडम तुसॉद लाइब्रेरी में रखा गया.

5. 1942 हिन्दुस्तान मोटर्स के द्वारा बनाई गई पहली कार.

6. 15 अगस्त 1947 को पंडित जवाहर लाल नेहरू आज़ाद भारत में पहला भाषण देते हुए.

7. भारत के पहले राष्ट्रपति डा. राजेंद्र प्रसाद, 26 जनवरी 1950 को भारत के संविधान की मंजूरी के लिए हस्ताक्षर करते हुए.

8. 1951 आज़ाद भारत के प्रथम लोकसभा चुनाव में लोग वोट डालने के लिए लाईन में लगे हुए.

9. 4 मार्च 1951 को पहली बार भारत में एशियन खेल खेले गये. चाचा नेहरू उद्घाटन करते हुए.




No comments:

Post a Comment