Monday, 13 March 2017

2005 में पति की हत्या हुई ... दुश्मन ने सोचा औरत है , डर जायेगी ... और चुप हो कर बैठ जायेगी

2005 में पति की हत्या हुई ... दुश्मन ने सोचा औरत है , डर जायेगी ... और चुप हो कर बैठ जायेगी

से नहीं पता था कि वो ज्वाला का रूप थी ,,, जो 12 साल सुलगती गयी ...  अंत में दुश्मन के भाई सिबगतुल्लाह अंसारी को इस चुनाव में मोहमदाबाद सीट से 32 हजार वोटों से धूल चटा दी ... और अभी भी संकल्प है उनका अपने पति के हत्यारोपी मुख्तारी अंसारी को उनके किये का उचित दण्ड दिलाने का ... उत्तर प्रदेश में नारी शक्ति के एक और स्वरूप स्वर्गीय कृश्णानंद राय की धर्मपत्नी अलका राय जी ...


No comments:

Post a Comment