Monday, 13 March 2017

हार के लिए मुलायम ने अखिलेश को ठहराया जिम्मेदार,

हार के लिए मुलायम ने अखिलेश को ठहराया जिम्मेदार, कहा- अहंकार के गठबंधन की वजह से हुई हार
पार्टी की करारी हार के बाद मुलायम सिंह यादव ने सीधे तौर पर अखिलेश यादव को जिम्मेदार ठहराया है। इस हार के लिए मुलायम ने अखिलेश यादव और कांग्रेस पर जमकर भड़ास निकाली। मुलायम सिंह यादव ने कहा कि अगर अखिलेश यादव कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करते तो सपा की पक्का जीत होती। जो कोई भी इस गठबंधन को सही कह रहा था वह हकीकत में झूठ बाल रहा था। कांग्रेस को यूपी में कोई पसंद नहीं करता है, न ही इस गठबंधन की कोई जरूरत थी। इतना ही नहीं मुलायम सिंह यादव ने यह भी कहा कि उन्होंने कभी भी गठबंधन का समर्थन नहीं किया था। उनका मानना है कि गठबंधन का घमंड समाजवादियों की ऐसी हार का सबसे बड़ा कारण बना है। उन्होंने कहा कि इस हार की सबसे बड़ी वजह वही घमासान रहा है। इस घमासान के बाद लोगों ने सपा को वोट इसलिए नहीं किया क्यों कि इस दौरान उनका अपमान किया गया था। पार्टी में मचे घमासान के बाद यही संदेश सपा कार्याकर्ताओं और जनता के बीच पहुंचा था। हालांकि मुलायम ने अपने भाई शिवपाल यादव, साधना गुप्ता, अमर सिंह और अपर्णा यादव की तरफदारी की। मुलायम सिंह यादव इस बात का जिक्र कर प्रधानमंत्री के उस बयान का समर्थन करते नजर आए जिसमें पीएम मोदी ने अखिलेश ने लिए कहा था, 'जो लड़का अपने बाप का ना हुआ हो आपका क्या होगा?' मुलायम ने आगे कहा कि 'यह बीजेपी की बड़ी जीत है, मुझे पहले ही दिख गया था कि भाजपा आ रही है, बसपा ने अपना वोट शेयर सुधारा है लेकिन उसकी पकड़ कमजोर हुई है, विचित्र जीत है और हार भी।' गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के भीतर मचे घमासान को शांत करने के लिए मुलायाम सिंह ने अहम भूमिका निभाई थी। हालांकि, उस वक्त भी वो बेटे अखिलेश के कुछ फैसलों से खुश नहीं थे। 




No comments:

Post a Comment