Thursday, 2 March 2017

सल्लो साल मुफ्त को रोटियां तोड़ते है वामपंथी , और डेल्ही में बैठकर चलाते है देश ध्रोही का अड़ा

सल्लो साल मुफ्त को रोटियां तोड़ते है  वामपंथी , और डेल्ही में बैठकर चलाते है  देश ध्रोही का अड़ा JNU  
जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी  के बारे में कीच रोचक जानकारी 

१. जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी  डेल्ही में कुल 1019  एकड़ में फैली हुई है 
में वार्षिक फीस इन नमक हरामो के लिए तक़रीबन 300  रुपए है 
हॉस्टल में रूम का किराया मात्रा 11   रुपये  महीना है 
हॉस्टल को मेस में खाना फ्री है  
हर 6  छात्र पर १ फ्रोफेसर  है 
जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी  होस्टल्स सुन १९९० में ११ हॉस्टल थे जिनकी संख्या अब २२ हो चुकी है 
जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में इस छात्र पर साल में तक़रीबन 11 .25 लाख रुपये का खर्च आता है 
केंद्र  सरकार ने 2014 - 15  में जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी को 42  करोड़ की सब्सिडी दी है 
सब्सिडी का पैसा खा कर जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी कुछ छात्र देश के साथ गद्दारो के साथ है 

Note  ऐसा नहीं है के जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के सरे छात्र देशदोही और हिन्दू विरोधी है और ऐसा भी नहीं है 
की जवहलाल नेहरू यूनिवर्सिटी हमेशा से ही ऐसा था 
मुफ्त को रोटियां  तोड़ते है और देश की राजधनी में रहकर अजेंडा चलाते है 
और देशदोर्ही नेता पत्रकार इनका भरपूर साथ निभाते है 

No comments:

Post a Comment