Tuesday, 14 March 2017

कन्नड़ लेखक के चेहरे पर पोती गई कालिख, लगे 'जय श्री राम' के नारे

कन्नड़ लेखक के चेहरे पर पोती गई कालिख, लगे 'जय श्री राम' के नारे



कन्नड़ लेखक योगेश मास्टर के साथ हिन्दू समर्थकों के अभद्रता करने की खबर है. बताया जा रहा है कि हिन्दूवादियों ने उनके चेहरे पर कालिख पोती, उनके साथ धक्कामुक्की की और उनके खिलाफ नारे लगा कर भाग गए. हिन्दूवादियों ने उन्हें चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने हिन्दू देवी-देवताओं के खिलाफ लिखने की हिम्मत की तो उसके 'गंभीर' परिणाम होंगे.
कन्नड़ लेखक योगेश मास्टर के साथ हिन्दू समर्थकों के अभद्रता करने की खबर है. बताया जा रहा है कि हिन्दूवादियों ने उनके चेहरे पर कालिख पोती, उनके साथ धक्कामुक्की की और उनके खिलाफ नारे लगा कर भाग गए. हिन्दूवादियों ने उन्हें चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने हिन्दू देवी-देवताओं के खिलाफ लिखने की हिम्मत की तो उसके 'गंभीर' परिणाम होंगे.
जानकारी के मुताबिक विवादित कन्नड़ उपान्यास 'दुंधी' के लेखक योगेश मास्टर जब पास की एक दुकान पर चाय पी रहे थे तभी आठ-नौ लोगों ने उन्हें खींच लिया और उनके चेहरे के पर कालिख पोत दी और भाग गए. आपको बता दें कि योगेश कन्नड़ भाषा के साप्ताहिक अखबार के पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले थे. वह अखबार गौरी लंकेश नाम के पत्रकार चला रहे हैं.
योगेश को हिन्दूवादियों ने हिन्दू देवताओं के खिलाफ लिखने के लिए गंभीर नतीजों की चेतावनी भी दी है. घटना में शामिल लोगों ने भागने से पहले 'जय श्री राम' के नारे भी लगाए थे. संदिग्धों में से दो को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है.
इस मामले की जांच के लिए पुलिस टीम का गठन हो चुका है. आपको यह भी बता दें कि योगेश को अगस्त 2013 में गिरफ्तार कर लिया गया था क्योंकि स्थानीय हिन्दू संगठनों ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्होंने अपनी विवादित किताब 'दुंधी' में भगवान गणेश का अपमान करने और हिन्दू भावनाओं को कथित तौर पर चोट पहुंचाया था.

No comments:

Post a Comment