Thursday, 9 March 2017

उत्तर प्रदेश पुलिस से अच्छा अन्य प्रदेश के वॉचमैन अछे है बेवा की तरह सरकार के सामने गिड़ गिड़कर नहीं रोते सरकार तुम लोगोके तनख्वा नेताओ को सलाम करने के लिए नहीं दे रहा है कमजोरी तुम में हे सरकार को क्यों दोष दे रहे हो

BJP कैंडिडेट के बेटे ने महिला दारोगा को पीटा,पीड़‍िता ने PM से पूछा- सरकार बनी तो हमें ड्यूटी करने दी जाएगी?


शाहजहांपुर

यहां बीजेपी के एक कैंडिडेट के बेटे पर महिला दिवस के दिन यानी 8 मार्च को महिला दारोगा के साथ मारपीट करने का आरोप लगा है। दारोगा ने पीएम मोदी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से सुरक्षा की गुहार लगाते हुए पूछा है- ”जब हम महिलाएं वर्दी में सुरक्षित नहीं हैं, स्टार लगाकर सुरक्षित नहीं हैं, बीजेपी के कैंडिडेट हमें डंडा मारते हैं, हमें गोली मारने की धमकी देते हैं तो आम महिलाओं का क्या होगा? अभी तो सरकार नहीं बनी है तो इतनी गुंडागर्दी है। सरकार बन जाएगी तो क्या हम जैसे पुलिसकर्मी को ड्यूटी करने दी जाएगी?”
शाहजहांपुर में तैनात महिला दारोगा का नाम सुषमा यादव है। घटना बुधवार रात सदर बाजार थानाक्षेत्र के टाउन हाल के पास की है। सुषमा दो सिपाहियों विपुल मलिक और अजेय मलिक के साथ गाड़ियों की चेकिंग कर रही थीं।
इसी दौरान बाइक पर सवार तीन लड़के आए। सुषमा के मुताबिक, तीन लड़कों में एक बीजेपी कैंडिडेट चेतराम का बेटा भी था। तीनों नाबालिग थे, इसलिए सुषमा ने उन्हें पूछताछ के बाद हिदायत देकर छोड़ दिया। उस वक्त तो बात खत्म हो गई, लेकिन उसके बाद बोलेरो में सवार होकर बीजेपी कैंडिडेट का बड़ा बेटा अपने साथियों के साथ आया और उनसे मारपीट करने लगा।
लड़कों के पास थी पिस्टल
महिला दारोगा का कहना है, ”गाड़ी में करीब 10-12 लड़के थे। उन लोगों के पास पिस्टल थी और गाड़ी पर बीजेपी का झंडा लगा था। चेतराम के बेटे ने मुझसे कहा कि तुमने मेरे भाई की गाड़ी क्यों रोकी और इसके बाद वो मुझे और मेरे दो साथी सिपाहियों को मारने लगा।”
पुलिसकर्मियों ने पहुंचाया अस्पताल
घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर आलाधिकारी पहुंचे और घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने चेतराम के बेटे के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है।

क्या कहना है डॉक्टर का?
डॉक्टर अनुराग पराशर का कहना है कि एक महिला दरोगा और दो सिपाही को पुलिस ने भर्ती कराया है। महिला के शरीर पर कई चोटें लगी हैं। उन पर और दो सिपाहियों पर लाठी-डंडे से हमला किया गया है। सिपाही विपुल मलिक के हाथ में काफी चोटें आई हैं। उनका इलाज किया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment