Sunday, 12 March 2017

हिंदू धर्म की नकारात्मक छवि पेश करने के लिए अमेरिकी हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड ने CNN को लगाई फटकार

हिंदू धर्म की नकारात्मक छवि पेश करने के लिए अमेरिकी हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड ने CNN को लगाई फटकार

अमेरिकी कांग्रेस की पहली और एकमात्र हिंदू सदस्य तुलसी गबार्ड ने हिंदू धर्म को लेकर ‘सनसनीखेज और गलत’ रिपोर्टिंग को लेकर मशहूर समाचार चैनल सीएनएन की आलोचना की है। हवाई से डेमोक्रेटिक पार्टी की कांग्रेस सदस्य तुलसी ने फेसबुक पर लिखा, ‘‘रविवार को सीएनएन ने ‘बिलीवर’ :आस्तिक: नामक श्रृंखला का पहला भाग प्रसारित किया। ऐसा लगता है कि इस भाग के लिए एंकर रजा असलान ने हिंदू धर्म के बारे में बताने के लिए सनसनीखेज और बेतुके तरीके तलाशने की कोशिश की।’’
इस कार्यक्रम में अघोरी के बारे में तथ्यों और मान्यताओं के बारे में दिखाया गया। तुलसी ने आरोप लगाया, ‘‘असलान और सीएनएन ने हैरान करनेवाले दृश्यों के माध्यम से न सिर्फ तपस्वियों के एक पंथ को गलत ढंग से दिखाने की कोशिश की, बल्कि जाति, कर्म और पुनर्जन्म के बारे में गलत धारणाओं को बार बार दोहराया जिनसे हिंदू धर्म के लोग खुद लड़ते आए हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सीएनएन जानता है कि धर्मों के बारे में सनसनीखेज और गलत रिपोर्टिंग से सिर्फ अज्ञानता को बढ़ावा मिलता है जिसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।’’
कुछ समय पहले अमेरिकी न्यूज चैनल सीएनएन ने काशी को ‘मुर्दों का शहर’ बताया है। सीएनएन ने अपने नए शो ‘बिलिवर’ का टीजर अपने टि्वटर अकाउंट पर पोस्ट किया है। इस टीजर में चैनल ने काशी को ‘मुर्दो का शहर’ बताते हुए इस शो के बारे में बताया था। इस छह हिस्सों की सीरिज को धार्मिक स्कॉलर और आध्यात्मिक जिज्ञासु रेजा असलान होस्ट करेंगे। लेकिन सीएनएन के लिए यह ट्वीट गलत दाव पड़ गया। सीएनएन के इस ट्वीट के खिलाफ भारतीय समेत दुनिया भर के हिंदू भड़क गए है। तुलसी गबार्ड के अलावा रिपब्लिकन पार्टी जुड़े हिंदुओं ने भी इसका विरोध किया है।

No comments:

Post a Comment