Tuesday, 2 May 2017

जगह और वक्त हम तय करेंगेः सेना

PAK को भुगतना होगा अंजाम, जगह और वक्त हम तय करेंगेः सेना

सेना के दो जवानों के साथ बर्बरता के मुद्दे पर वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्टॉफ सरथ चंद ने कहा कि पाकिस्तान को इसका अंजाम भुगतना होगा. आर्मी इस वहशियाना हरकत का जवाब अपने तय किए वक्त और समय पर देगी.
उन्होंने कहा कि दो जवानों की हत्या और उनका सिर काटना पाकिस्तानी सेना की कुंठा को दिखाता है. सरथ चंद ने कहा कि पाकिस्तानी सेना अपनी इस हरकत कभी भी सही नहीं ठहरा पायेगी.
सरथ चंद ने कहा, 'मैं यह नहीं कहना चाहता कि हम क्या करेंगे. बोलने की बजाय हम अपने तय किए समय और जगह पर एक्शन के लिए फोकस करेंगे.' वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्टॉफ एक सवाल के जवाब में बोल रहे थे कि पाकिस्तान को इंडियन आर्मी का संभावित जवाब क्या हो सकता है.
पाकिस्तान ने दिया फुल फायर सपोर्ट
चंद ने कहा, 'उनका कहना है कि ये उन्होंने नहीं किया. फिर ये किसने किया? उनके लोग हमारे इलाके में आए और ये करके गए. उन्हें जिम्मा लेना होगा और इसका अंजाम भुगतना होगा.'
इससे पहले भारतीय सेना ने पाकिस्तानी मिलिट्री से कहा कि दो जवानों के शव के साथ बर्बरता 'वहशियाना और अमानवीय' है.
दूसरी ओर डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशंस लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष से बात की. भट्ट ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर के कृष्णा घाटी में दो जवानों की हत्या और सिर काटे जाने को लेकर गहरी चिंता जताई.
सेना ने एक बयान जारी कर कहा कि यह नृशंस और अमानवीय हरकत सभ्यता के किसी भी मानक से परे है और इसके लिए पाकिस्तान जिम्मेदार है. डीजीएमओ ने पाकिस्तानी समकक्ष से यह भी कहा कि जवानों के साथ बर्बरता के लिए पाकिस्तानी सेना ने 'फुल फायर' सपोर्ट दिया है.
जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगाः रक्षामंत्री
भारतीय सेना पहले ही इस हरकत के लिए पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने की बात कह चुकी है. हालांकि पाकिस्तान आर्मी ने इस तरह के किसी भी हमले में शामिल होने से इंकार किया है.
रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को ही कह दिया था कि दो जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा और भारतीय सेना इसका मुंहतोड़ जवाब देगी.
जेटली ने कहा, 'यह घृणित और अमानवीय हरकत है. इस तरह के हमले युद्ध के समय भी नहीं होते, शांति काल की तो बात ही छोड़ दीजिए. जवानों के शव के साथ बर्बरता वहशियाना हरकतों का चरम है.'
बता दें कि सोमवार को पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम ने घात लगाकर हमला किया था, जिसमें सेना के नायब सूबेदार परमजीत सिंह और बीएसएफ के हेड कांस्टेबल प्रेम सागर शहीद गए थे. हमले के बाद पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम ने जवानों के शव को क्षत-विक्षत कर दिया था. जवानों के साथ बर्बरता को लेकर पूरे देश में आक्रोश है.

No comments:

Post a Comment