Tuesday, 13 June 2017

6 घंटों में 6 सिलसिलेवार हमले किए, जिनमें करीब 13 जवान घायल हो गए.

जंग-ए-बदर की याद में' आतंकियों ने कश्मीर में 6 घंटे में किए 6 आतंकी हमले, 13 जवान घायल


कश्मीर घाटी के दक्षिणी हिस्से में मंगलवार शाम आतंकियों ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर 6 घंटों में 6 सिलसिलेवार हमले किए, जिनमें करीब 13 जवान घायल हो गए. इस दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों की चार राइफलें भी लूट ली.
आतंकियों ने यहां सबसे पहले त्राल और अवंतिपुरा में सीआरपीएफ कैंप पर ग्रेनेड फेंका. त्राल के सीआरपीएफ कैंप पर हुए इस आतंकी हमले में 10 जवान घायल हो गए, जिसमें 3 की हालत गंभीर है.
इसके बाद सोपोर में सेना के कैंप को बनाया निशाना और पुलवामा में थाने पर ग्रेनेड फेंका. वहीं अनंतनाग में आतंकियों ने हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज के गार्ड रूम पर फायरिंग की, जिसमें दो सुरक्षाकर्मी घायल हो गए.राज्य के पुलिस महानिदेशक एसपी वैद ने कहा कि इस बात की खुफिया जानकारी थी कि आतंकवादी 17वें रमजान और जंग-ए-बदर (इस्लामी इतिहास की पहली जंग) की वर्षगांठ के मौके पर हमले कर सकते हैं. ऐसे में सभी जरूरी ऐहतियाती कदम उठाए गए थे. वैद ने कहा, 'दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए, लेकिन उनकी हालत खतरे से बाहर है.'वहीं पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि पुलवामा जिले के टाल इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक शिविर पर ग्रेनेड फेंका, जिसमें 10 जवान घायल हो गए. दूसरा हमला अनंतनाग जिले में हुआ, जहां के अंचीदोरा इलाके में आतंकवादियों ने एक रिटायर्ड जज के आवास पर तैनात सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की. इस घटना में दो जवान घायल हो गए.
पुलिस प्रमुख ने कहा कि आतंकवादियों ने वहां तैनात जवानों से चार राइफलें भी लूट लीं. तीसरा हमला पुलवामा के पदगामपोरा इलाके में सीआरपीएफ के शिविर पर हुआ, हालांकि इसमें कोई घायल नहीं हुआ.
आतंकवादियों ने पुलवामा थाने पर एक ग्रेनेड फेंका, जिसमें एक पुलिसकर्मी को मामूली चोट आई. उरी कश्मीर के सोपोर में आंकवादियों ने एक और हमला किया, लेकिन इस हमले में कोई नुकसान नहीं पहुंचा.

No comments:

Post a Comment