Tuesday, 13 June 2017

मिजोरम के लंगलेई जिले के तलाबुंग में भारी बारिश की वजह से बाढ़ के हालात बन गये हैं और आठ लोग मारे गये और छह अन्य लापता हैं.

मिजोरम में बरसी आसमानी आफत, 8 मरे, 350 घर डूबे

मिजोरम के लंगलेई जिले के तलाबुंग में भारी बारिश की वजह से बाढ़ के हालात बन गये हैं और आठ लोग मारे गये और छह अन्य लापता हैं. स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि असम को राज्य से जोड़ने वाला नेशनल हाईवे 54 लंगलेई, सियाहा, लांगतलाई, सेरछिप और चंफई जिलों में भूस्खलन की वजह से कई स्थानों से कट गया है.
राज्य के शहरी विकास और गरीबी उन्मूलन मंत्री जोडिंतलुआंगा ने कहा कि राज्य के विभिन्न हिस्सों में बाढ़ की वजह से करीब 350 घर डूब गये हैं. मंत्री ने कहा कि लंगलेई जिले के दक्षिण मरपारा और फैरुंअंगकाई गांवों में आठ लोग मारे गये हैं. अभी भी छह अन्य लापता हैं.
आपको बता दें कि राज्य की खावथलांगतुईपुई नदी के पानी से तलाबुंग कस्बे में बाढ़ आ गयी है जिससे 74 इमारतें डूब गयी हैं. लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने कहा कि इलाके से 84 परिवारों को बचाया गया है. 
आपको बता दें कि इससे पहले उत्तर पूर्व के असम में 2016 में छह जिलों में आई बाढ़ से करीब एक लाख लोग प्रभावित हो गए थे. प्राधिकार ने बताया कि अभी तक बाढ़ से 1,018 हेक्टेयर से ज्यादा क्षेत्र में फसलों को नुकसान पहुंचा है. बुर्हिदीहिंग और देसांग नागलामुरगा नदियां शिवसागर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही थी.

No comments:

Post a Comment