Wednesday, 5 April 2017

सीएम की कुर्सी संभालने के बाद योगी ने यूनिफॉर्म के खाकी रंग पर यह कहते हुए आपत्ति जताई थी कि यूनिफॉर्म देखने में होमगार्ड की तरह लगती है। सीएम योगी आदित्यनाथ के मन की बात को समझते हुए बेसिक शिक्षा विभाग ने लखनऊ में दिए गए प्रेजेंटेशन में भी बच्चों के यूनिफॉर्म बदलने की सिफारिश की थी।

सरकारी स्कूलों के बच्चों की ड्रेस देखकर खफा हुए CM योगी आदित्यनाथ

सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों का यूनिफॉर्म का कलर जल्द ही बदला जाएगा। उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बच्चों की मौजूदा खाकी रंग के यूनिफॉर्म को बदलकर उसको एक नया कलर देंगे।
सीएम की कुर्सी संभालने के बाद योगी ने यूनिफॉर्म के खाकी रंग पर यह कहते हुए आपत्ति जताई थी कि यूनिफॉर्म देखने में होमगार्ड की तरह लगती है। सीएम योगी आदित्यनाथ के मन की बात को समझते हुए बेसिक शिक्षा विभाग ने लखनऊ में दिए गए प्रेजेंटेशन में भी बच्चों के यूनिफॉर्म बदलने की सिफारिश की थी।कैबिनेट बैठक के दौरान इस पर सैद्धांतिक सहमति भी बन चुकी है और विभाग का दावा है कि जल्द ही इसके लिए शासनादेश भी जारी हो जाएगा। लखनऊ में सीएम योगी के सामने प्रजेंटेशन देकर इलाहाबाद लौटे बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अभिभावक और बच्चों के साथ शिक्षकों ने भी यूनिफॉर्म बदलने की मांग की थी। जिस पर सीएम ने अपनी सहमति दे दी है।कैबिनेट बैठक के बाद इसका निर्णय बेसिक शिक्षा विभाग की मंत्री अनुपमा जायसवाल पर छोड़ दिया गया है। वह यूपी के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के लिए सबसे बढिया ड्रेस कोड की तलाश कर रही हैं। यूनिफॉर्म के रंग निर्धारण का काम अनुपमा जायसवाल के स्तर पर होना है और अनुपमा निजी स्कूलों के ड्रेस कोड को खासा तवज्जो देती हैं। ऐसे में निजी स्कूलों के समकक्ष नए यूनिफॉर्म के रंग होने की उम्मीद है। हालांकि पूर्व के भी रंग पर विचार चल रहा है।सपा सरकार ने 2012 में बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूल के छात्र-छात्राओं की यूनिफॉर्म का रंग बदलकर खाकी कर दिया था। यह रंग देखने में सीएम योगी के शब्दों में होमगार्ड की तरह लगता था। यूनिफॉर्म बदलने के दौरान शिक्षकों ने खाकी रंग की वजह से इसका विरोध किया था। तब शिक्षकों ने दलील दी थी कि रंग बहुत खराब है और बच्चों में हीन भावना घर कर रही है। लेकिन सरकार ने ध्यान नहीं दिया।योगी सरकार से आदेश जारी होते ही बेसिक शिक्षा परिषद के एक लाख से अधिक प्राथमिक और 45 हजार से अधिक उच्च प्राथमिक स्कूलों में पढ़ने वाले 1.27 करोड़ बच्चों को नए सत्र में नई यूनिफॉर्म मिलेगी। हालांकि यह किस रंग में होगी इसे लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है। लेकिन नए रंग में ड्रेस का मिलना तय माना जा रहा है। बता दें कि सरकारी स्कूलों में बच्चों को मुफ्त यूनिफॉर्म दिया जाता है।

No comments:

Post a Comment