Saturday, 1 April 2017

मौलाना के अनुसार लाख सरकार और जमाना बदले लेकिन इस्लाम और उसके क़ानून कभी भी नहीं बदल सकते ।

नरेंद्र मोदी का काम करवाएगा भारत का नुकसान , इस्लामी मामलों से दूर रहें वो - हाफ़िज़ हुसैन अहमद
३ तलाक पर जब अपने पास कोई माकूल  जवाब नहीं बचा तो सबसे आसान शार्ट कट अपनाया मौलानाओं ने । वही शार्ट कट जिसे अपना कर तमाम लोगों ने पहले भी अपनी झेंप मिटाई है .  मदरसा इस्लामिया कुरैना फैजूल उलूम के संचालक हाफिज हुसैन अहमद ने पहले के तमाम लोगों के नक़्शे कदम पर चलते हुए मुस्लिम महिलाओं की इस पीडादायक हालत पर नरेंद्र मोदी को ना सिर्फ दोषी ठह्ताया बल्कि उन्हें परोक्ष रूप से धमकी भी दे डाली . मौलाना हाफ़िज़ हुसैन अहमद ने धमकी भरे अंदाज़ में कहा कि इस विषय में सरकार द्वारा उठाये गए किसी भी कदम से देश का नुक्सान होगा.  भारत की वर्तमान सरकार को इस्लामी दायरे से दूर रहने की विघटनकारी सलाह देते हुए मौलाना ने बेहद आक्रामक तेवर दिखाए .  ज्ञात हो कि इस्लाम  में तीन तलाक निकाह हलाला और बहुविवाह को चुनौती देने वाली याचिका पर संविधान पीठ 11 मई से सुनवार्इ करेगी। यह पहली बार होगा जब गर्मी की छुट्टियों में सुप्रीम कोर्ट के कम से कम 15 जज इस प्रकार के बेहद महत्‍वपूर्ण संवैधानिक महत्‍व के 3 मामलों की सुनवाई करेंगे जिस से करोडो महिलाओं की पूरी जिंदगी जुडी है । हाफिज हुसैन अहदम ने कहा कि तलाक पर इस्लाम में खुला रास्ता है। एक ही समय पर 3 तलाक देने पर इस्लाम में भी मनाही है। नरेन्द्र मोदी के प्रति तेवर दिखा रहे मौलाना ने ससम्मान खलीफा का उदाहरण देते हुए बताया कि खलीफा ने भी 3 तलाक देने पर इंसान को कोड़े मारे थे। मौलाना ने अपनी धमकी जारी रखते हुए कहा कि ये धर्म पर हमला है व् इस प्रकार की सूरत में केवल अल्लाह का ही कानून माना जाएगा . केंद्र सरकार द्वारा कानून बनाए जाने को उन्होंने इस्लाम से छेड़छाड़ बताते हुए कहा कि इससे देश का ही नुकसान होगा। बार बार अल्लाह का क़ानून और खलीफा के नियम बताने वाले मौलाना ने अचानक ही धर्म निरपेक्षता का राग छेड़ दिया और कहा कि ऐसा होने के बाद यह देश धर्म निरपेक्ष देश नहीं रह जाएगा।  अपनी धमकी आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि इससे हिन्दू मुस्लिम का आपस में टकराव ही बढ़ेगा। मौलाना के अनुसार लाख सरकार और जमाना बदले लेकिन इस्लाम और उसके क़ानून कभी भी नहीं बदल सकते । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बार बार बोलते हुए  हाफिज हुसैन अहमद ने कहा कि मोदी ने न तो कुरान पढ़ी है और न ही उन्हें कोई जानकारी है, इसलिए उन्हें कुछ भी पता नहीं है।

No comments:

Post a Comment