Tuesday, 21 March 2017

यूपीः मेरठ के डीएम-कमिश्नर आवास को उड़ाने की धमकी

यूपीः मेरठ के डीएम-कमिश्नर आवास को उड़ाने की धमकी, जैश के नाम से मिला खत

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में सेना के अफसरों को एक पत्र मिला है, जिसमें मेरठ जिले की डीएम बी. चंद्रकला और कमिश्नर आलोक सिन्हा के आवास को उड़ाने की धमकी दी गई है. पत्र में दावा किया गया है कि इसे जैश-ए-मोहम्मद की ओर से भेजा गया है. डीएम बी. चंद्रकला की गिनती देश के तेजतर्रार आईएएस अफसरों में होती है.
पत्र मिलने के फौरन बाद डीएम और कमिश्नर आवास की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. पुलिस प्रशासन इस मामले की जांच में जुट गया है. मेरठ के एसएसपी जे रविन्दर गौड़ ने बताया कि मामले की जांच सीओ एलआईयू को दी गई है. शुरुआती जांच में यह किसी शरारती तत्व का काम लग रहा है, जो सनसनी फैलाना चाहता है.
एसएसपी के मुताबिक फिर भी सुरक्षा के लिहाज से डीएम और कमिश्नर आवास की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. इसके अलावा रोडवेज बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन समेत भीड़भाड़ वाले सार्वजनिक स्थानों पर भी पुलिस तैनात कर दी गई है.
पुलिस के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद का यह धमकी भरा पत्र 17 मार्च को सब एरिया मुख्यालय को डाक से मिला था. यह खत 14 मार्च को मेरठ से ही पोस्ट किया गया था. इस पत्र में डीएम को धमकी देते हुए कहा गया है कि आपकी पुलिस के कारण हमें झोंपड़ियों में रहना पड़ रहा है.
इसके अलावा पत्र में मेरठ मंडल कमिश्नरी और डीएम आवास की वीडियो बना कर आंतकी हाफिज सईद को ईमेल करने की बात करते हुए लिखा गया है कि सैन्य क्षेत्र की वीडियो बनाना अभी बाकी है, और इसे जल्दी ही बना लिया जाएगा. अब स्थानीय अभिसूचना इकाई मामले की जांच कर रही है. 
गौरतलब है कि बी. चंद्रकला देश की तेजतर्रार आईएएस अफसर मानी जाती हैं. उनके काम और बेदाग छवि हमेशा उन्हें सुर्खियों में ले आते हैं. बुलंदशहर में डीएम रहते उनका एक वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हुआ था, जिसमें एक सड़क के निर्माण में धांधली पाए जाने पर उन्होंने ठेकेदार और संबंधित अधिकारियों को सरेआम चेतावनी दी थी. 

No comments:

Post a Comment